Twitter Users ne PM Modi ko Tiktok par Ban lagane ko kaha

Tik tok BAN in india

बुधवार को, जब Mr.Faisu और Team 07 के खिलाफ F.I.R का मामला सामने आया तो netizens चुप नहीं बैठे और कई Twitter users ने  IT मंत्री और कानून मंत्री RS Prasad और PM मोदी से अपील कर डाली की वह Tiktok पर जल्द से जल्द प्रतिबन्ध लगाने की मुहीम छेड़े और इसे बंद करवा देंl उन्होंने ऐसी मांग इसलिए की क्युकी उन्हें लगा की Tiktok का इस्तेमाल ‘जिहाद और अन्य’ राष्ट्र-विरोधी एजेंडे ‘को बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है।’ जिसके उन्होंने कुछ सबूत यानी कुछ ऐसी videos भी पेश की जिसको देखकर यह साफ़ तौर पर ज़ाहिर हो रहा था की वह झूट नहीं बोल रहे!

लेकिन हमारा मानना यह है की social media के ज़माने में tiktok पर ban लगाके कोई फायदा नहीं होने वाला! उन्होंने ऐसी videos tiktok पर डाली क्यूकी tiktok पर easily कोई भी चीज़ viral हो जाती है! लेकिन अगर tiktok को ban भी कर दिया जाए, तो भी यह सिलसिला थमेगा नहीं क्यूकी tiktok के अलावा और भी बहुत सरे social media प्लेटफार्म है जहा आप ऐसी videos post कर सकते है! चलिए अभी आगे इंतज़ार रहेगा की सरकार tiktok को लेकर आगे क्या कदम उठती है!

और मान लिया जाए की tiktok अगर ban भी हो जाए तो ऐसा पहली बार नहीं होगा! आप सभी को पता है की tiktok एक बार playstore से suspend हो चुकी है और फिर वापस आ गयी! ऐसा नहीं है की tiktok ऐसी चीज़ो को रोकता नहीं है या कोशिश नहीं करता, जैसे अभी mr faisu की tiktok id को suspend कर दिया गया है जबकि इनके लगभग 24m fans थे! Tiktok को इससे कोई फरक नहीं पड़ता है की आप बड़े स्टार है या आपने अभी छोटे level से शुरू किया हो! जो tiktok को गलत लगता है tiktok उसके खिलाफ action ज़रूर लेता है!

मुम्बई पुलिस के साइबर सेल द्वारा झारखंड में तबरेज अंसारी की भीड़ द्वारा पिटाई से संबंधित Tiktok पर एक video upload करने के बाद Faisu और Team 07 के एक समूह के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के बाद यह अनुरोध सामने आया की tiktok को बंद किया जाये। इस मामले की शिकायत मुंबई पुलिस द्वारा दर्ज की गई जो शिवसेना कार्यकर्ता रमेश सोलंकी के द्वारा कराई गयी। अगर आपको इस शिकायत के बारे में और पढ़ना है तो यहाँ CLICK करके पढ़ सकते है।

यह भी पढ़े

About the Author

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *